सावधान :फॉलोअर बढ़ाने वाले इस ऐप ने आईडी-पासवर्ड लीक

Share with your friends

सोशल मीडिया यूजर सावधान | इंस्टाग्राम में एक बार फिर से डेटा ब्रीच हुआ है. आपकी जानकारी के लिए बता दे कि इंस्टाग्राम फेसबुक के अंदर आता है और डेटा लीक के मामले में फेसबुक लगातार सवालों के घेरे में रहती है. यूजर्स ka डेटा थर्ड पार्टी टूल के जरिए लीक हुआ है.

सोशल मीडिया बूटिंग सर्विस Social Captain एक थर्ड पार्टी टूल है और ये ऐप इंस्टाग्राम यूजर्स के फॉलोअर्स बढ़ाने में मदद करता है . इसी टूल के जरिए हजारों इंस्टाग्राम यूजरनेम और पासवर्ड लीक हो चुके hai .

अब इन यूजर्स पर खतरा है और हैकर्स इसका गलत फायदा उठा सकते हैं. इस डेटा लीक की सबसे खतरनाक बात ये है कि यूजर्स की आईडी और पासवर्ड दोनों ही पल्बिक हो चुके hai

अगर खबरों पर गौर किया जाये to टेक क्रंच की एक रिपोर्ट के मुताबिक Social Captain नाम के इस टूल ने इंस्टाग्राम के लिंक्ड यूजर अकाउंट्स को बिना एन्क्रिप्शन के प्लेन टेक्स्ट में स्टोर किया था.

गौरतलब है कि Social Captain यूज करने के लिए इंस्टाग्राम यूजर्स को अपने अकाउंट को इससे लिंक करना होता है तभी आप इसे उसे कर सकते hai .

yeh अकाउंट लिंक तब होता है जब आप ऐप को इस बात की इजाजत देते हैं कि वो आपका डेटा ऐक्सेस कर सकता है.

रिपोर्ट के मुताबिक वेबसाइट की एक खामी की वजह से कोई भी सोशल मीडिया कैप्टन के यूजर का प्रोफाइल एक्सेस कर सकता है और बिना इंस्टाग्राम के लॉग इन क्रेडेंशियल के ही इंस्टा एक्सेस कर सकता है जो की डाटा लीक होने का मुख्य कारण hai .

जिस सिक्योरिटी रिसर्चर ने इस इंस्टाग्राम डेटा लीक का खुलासा किया है, उन्होंने बताया है कि इस डेटा में 10000 यूजर्स के अकाउंट शामिल हैं. इनमें से 70 प्रीमिमय अकाउंट हैं यानी ये सर्विस यूज करने के लिए पैसे देते हैं.

टेक क्रंच की इस रिपोर्ट के बाद सोशल कैप्टन ने यह कन्फर्म किया है कि उन्होंने इस खामी को ठीक कर लिया है और डाटा सुरक्षित hai .

आप इस तरह के डेटा लीक से कैसे बच सकते हैं

अब थर्ड पार्टी ऐप्स के जरिए डेटा लीक होना आज कल आम बात हो चुकी है . आम तौर पर सोशल मीडिया वेबसाइट जैसे फेसबुक या इंस्टाग्राम पर कई ऐप्स होते हैं जिनका फेसबुक से कोई लेना-देना hi नहीं होता है.

लेकिन अगर आप इन्हें यूज करते हैं तो वो आपसे फेसबुक या इंस्टा का क्रेडेंशियल मांगते हैं. आपको कुछ देना नहीं होता है बस Allow करना होता है .

चूंकि आप इन्हे डाटा लेने की इजाजत देते है है तो ये आपका डेटा लेकर अपने पास स्टोर करते हैं. आप एक बार को फेसबुक पर भरोसा कर भी लें, तो आप इन थर्ड पार्टी ऐप्स पर भरोसा कैसे करेंगे.

जानकारियां एक्सेस करने के लिए आप किसी भी ऐप्स को इजाजत देने से बचें.  

Share with your friends

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *